आईएनएस विक्रांत क्या हैं | आईएनएस विक्रांत का इतिहास क्या हैं | INS Vikramaditya vs INS Vikrant

आईएसी विक्रांत क्या है | New INS Vikrant Kya Hai in Hindi | आईएनएस विक्रांत ध्येय वाक्य क्या हैं | IAC Vikrant Full Form in Hindi | What is IAC Vikrant in Hindi

आज आप इस लेख के द्वारा INS Vikrant UPSC, IAC Vikrant UPSC, New INS Vikrant Cost, INS Vikrant 1971 Story in Hindi, INS Vikrant Old, IAC Vikrant Commission एवं INS Vikrant r11 के बारें में विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे.

 

नया आईएनएस विक्रांत एयरक्राफ्ट कैरियर हिंदी में - New INS Vikrant Aircraft Carrier in Hindi

प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा प्रारम्भ की गई मेक इन इंडिया मुहिम को गति प्रदान करते हुए देश के पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 02 सितम्बर को किया और इसी के साथ नए आईएनएस विक्रांत एयरक्राफ्ट कैरियर को भारतीय नौसेना को सौंप दिया गया हैं. देश के समुद्री इतिहास में नया आईएनएस विक्रांत स्वदेशी तकनीक द्वारा निर्मित सबसे बड़े और ताकतवर जहाज में शामिल हो गया हैं.

क्या हैं आईएनएस विक्रांत 2022 और आईएनएस विक्रांत एयरक्राफ्ट कैरियर की विशेषताएं क्या हैं के बारें में इस लेख के द्वारा जानकारी प्राप्त करते हैं.

 

आईएनएस विक्रांत क्या हैं - What is INS Vikrant in Hindi

आईएनएस विक्रांत एक विमानवाहक पोत हैं जिसका निर्माण कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड कंपनी द्वारा किया गया हैं. आईएनएस विक्रांत को अन्य नाम आईएसी विक्रांत एवं आईएसी - 1 के नाम से भी जाना जाता हैं.

आईएनएस विक्रांत भारत में बनने वाला प्रथम विमानवाहक पोत हैं जिसे पूर्ण रूप से स्वदेशी तकनीक द्वारा डिजाइन और निर्माण किया गया हैं. आईएनएस विक्रांत विक्रांत भारत के समुद्री इतिहास में बनाया गया अब तक का सबसे बड़ा जहाज हैं जिसे अत्याधुनिक ऑटोमेशन सुविधाओं के साथ बनाया गया हैं.

भारत के प्रथम स्वदेशी विमान वाहक का नामकरण भारत के प्रथम विमानवाहक पोत विक्रांत (R11) को श्रद्दांजलि के रूप में विक्रांत रखा गया हैं जिसने वर्ष 1971 के युद्ध में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

आईएनएस विक्रांत के नौसेना में शामिल होने से भारत के पास दो ऑपरेशनल विमानवाहक पोत हो जायेंगे, जिससे देश की समुद्री सीमा की सुरक्षा में मजबूती मिलेगी.

आईएनएस विक्रांत विश्व के 10 सबसे ताकतवर विमानवाहक युद्धपोतों एवं 7वां सबसे बड़ा कैरियर में शामिल हो गया हैं.

भारत के अतिरिक्त अन्य देशों के विमानवाहक युद्धपोतों में संयुक्त राज्य अमेरिका का यूएसएस जेरल्ड आर फोर्ड क्लास, चीन का फुजियान, यूनाइटेड किंगडम का क्वीन एलिजाबेथ क्लास, रूस का एडमिरल कुज़नेत्सोव, फ़्रांस का चार्ल्स डी गॉल एवं इटली का कावूर एयरक्राफ्ट कैरियर शामिल हैं.

आईएनएस विक्रांत 2.5 एकड़ में फैला हुआ लगभग 45 हजार टन वजनी एयरक्राफ्ट कैरियर हैं जिसपर 30-35 विमान एक साथ खड़े हो सकते हैं. आईएनएस विक्रांत में 1.10 लाख हॉर्सपॉवर का इंजन हैं जो पोत को 52 किमी प्रति घंटा की रफ़्तार प्रदान करता हैं.

 

आईएनएस विक्रांत का अर्थ क्या हैं - What is the meaning of INS Vikrant in Hindi

विक्रांत नाम संस्कृत के शब्द विक्रांत शब्द से लिया गया हैं जिसका अर्थ साहसी, योद्धा होता हैं. जो शूरवीर हैं अथवा जो विजेताओं पर भी विजय प्राप्त कर लें वह विक्रांत हैं. विक्रांत का हिंदी में अर्थ साहसी तथा शाब्दिक अर्थ बाधाओं अथवा सीमाओं के पार जाना हैं.

 

आईएनएस विक्रांत फुल फॉर्म क्या हैं - What is INS Vikrant full form in Hindi

Full Form of INS Vikrant Indian Naval Ship Vikrant हैं तथा आईएनएस विक्रांत का फुल फॉर्म हिंदी में भारतीय नौसेना पोत विक्रांत हैं.

 

आईएनएस विक्रांत का कूट नाम क्या हैं - What is the code name of INS Vikrant

आईएनएस विक्रांत का कोड नाम आईएसी - 1 हैं.

 

आईएनएस विक्रांत का आदर्श वाक्य क्या हैं - What is the motto of INS Vikrant

आईएनएस विक्रांत का मोटो जयेम सं युधि स्पृधः हैं, जिसका हिंदी में अर्थ हम युद्ध में शत्रुओं पर पूर्ण विजय पायें हैं. इसका दूसरा अर्थ मैं उन लोगों को हराता हूँ जो मेरे खिलाफ लड़ते हैं.

 

आईएनएस विक्रांत 2022 का लोकार्पण कब किया गया हैं - When was INS Vikrant 2022 launched

भारतीय नौसेना के पहले स्वदेशी विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत 2022 का जलावतरण दिनांक 02 सितम्बर 2022 दिन शुक्रवार को किया गया हैं.

 

आईएनएस विक्रांत 2022 का लोकार्पण किसने किया हैं - Who has inaugurated INS Vikrant 2022

देश के पहले स्वदेशी एयरक्राफ्ट कैरियर आईएनएस विक्रांत 2022 का जलावतरण प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी ने किया हैं.

 

आईएनएस विक्रांत 2022 का लोकार्पण कहाँ किया गया हैं - Where has INS Vikrant 2022 been launched

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रांत का अनावरण कोच्चि के कोचीन शिपयार्ड में किया हैं.

 

आईएनएस विक्रांत 2022 का निर्माण किसने किया हैं - Who built INS Vikrant 2022

आईएसी विक्रांत का निर्माण केन्द्रीय पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय के अधीन कार्यरत सार्वजनिक क्षेत्र की शिपिंग कंपनी कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड ने किया हैं. कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड भारत सरकार के पूर्ण स्वामित्व की एक मिनी रत्न कंपनी हैं जिसका मुख्य काम पोत निर्माण एवं मरम्मत करना हैं.

 

आईएनएस विक्रांत को किसने डिज़ाइन किया हैं - Who designed INS Vikrant

आईएसी विक्रांत को भारतीय नौसेना के इन हाउस युद्धपोत डिज़ाइन ब्यूरो (Warship Design Bureau - WDB) द्वारा डिजाइन किया गया हैं.

 

आईएनएस विक्रांत 2022 विवरण क्या हैं - What is INS Vikrant 2022 Details in Hindi

आईएसी विक्रांत की बनावट भविष्य को ध्यान में रखते हुए बनाई गई हैं. आईएनएस विक्रांत का कुल क्षेत्रफल 2.5 एकड़ हैं, जिसमे 18 फ्लोर और 2400 कम्पार्टमेंट बनाये गए हैं. आईएनएस विक्रांत से इतनी विद्युत् का उत्पादन होगा जिससे 5000 घरों को रोशन किया जा सकता हैं, इसके अतिरिक्त इसका फ्लाइंग डेक दो फ़ुटबाल मैदानों से भी बड़ा हैं.

 

आईएनएस विक्रांत 2022 का वजन - Weight of INS Vikrant 2022

आईएनएस विक्रांत 2022 का वजन 45000 टन हैं.

 

आईएनएस विक्रांत 2022 की लम्बाई और चौड़ाई - Length and width of INS Vikrant 2022

लंबाई - 262 मीटर (860 फीट)

बीम - 62 मीटर (203 फीट)

ऊंचाई - 59 मीटर (194 फीट)

ड्राफ्ट - 8.4 मीटर (28 फीट)

गहराई - 25.6 मीटर (84 फीट)

डेक - 14

फ्लाइंग डेक एरिया - 12500 स्क्वायर मीटर

 

आईएनएस विक्रांत 2022 ऊर्जा स्त्रोत - INS Vikrant 2022 Energy Source

4 × जनरल इलेक्ट्रिक LM2500+ गैस टर्बाइन (88 मेगावाट बिजली का उत्पादन)

2 × एलेकॉन COGAG गियरबॉक्स

 

आईएनएस विक्रांत 2022 प्रणोदन - INS Vikrant 2022 Propulsion

दो शाफ़्ट

 

आईएनएस विक्रांत 2022 इंजन - INS Vikrant 2022 Engine

इंजन - इलेक्ट्रिक टरबाइन

इंजन पॉवर – 1.10 लाख हॉर्सपॉवर

 

आईएनएस विक्रांत 2022 गति - INS Vikrant 2022 Speed

गति - 30 kn (56 किमी प्रति घंटा अथवा 35 मील प्रति घंटा)

रेंज - 8000 एनएमआई (15000 किमी अथवा 9200 मील)

 

आईएनएस विक्रांत 2022 कर्मी दल - INS Vikrant 2022 crew

चालक दल के 196 अधिकारी

नाविक 1449 (वायु चालक दल सहित)

 

आईएनएस विक्रांत 2022 सेंसर और प्रसंस्करण प्रणाली - INS Vikrant 2022 Sensor and Processing System

Elta EL/M-2248 MF-STAR AESA मल्टीफ़ंक्शन रडार

सेलेक्स RAN-40L 3D L-बैंड एयर सर्विलांस रडार

  

आईएनएस विक्रांत 2022 की विशेषताएं क्या हैं - What are the features of INS Vikrant 2022 in Hindi

आईएसी विक्रांत की विशेषताएं निम्नलिखित हैं.

 

आईएनएस विक्रांत में विमानों की क्षमता - Aircraft capacity in INS Vikrant 2022

आईएनएस विक्रांत 2022 में 30 लड़ाकू विमान की तैनाती की जायेगी, जिसमे प्रमुख रूप से कामोव केए-31 हेलीकॉप्टर्स, मिकोयान मिग-29 फाइटर प्लेन, एमएच-60 आर हेलीकॉप्टर्स और भारतीय एचएएल द्वारा निर्मित ध्रुव हेलीकॉप्टर्स शामिल हैं. आईएसी विक्रांत पर 20 लड़ाकू विमान और 10 हेलिकॉप्टर तैनात होंगे.

 

आईएनएस विक्रांत के हथियार - Weapons of INS Vikrant 2022

आईएनएस विक्रांत 2022 में सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस को तैनात किया जायेगा. ब्रह्मोस मिसाइल 4300 किमी प्रति घंटा की स्पीड से 400 किलोमीटर तक के लक्ष्य को निशाना बना सकती हैं, इसे कहीं से भी लॉन्च किया जा सकता हैं.

आईएनएस विक्रांत विमान वाहक पोत में वर्टिकल लॉन्चिंग सिस्टम लगाया गया हैं जिससे 32 से भी अधिक बराक-8 मिसाइल लॉन्च की जा सकती हैं. इस मिसाइल के हार्ड टू किल डेटोनेशन सिस्टम द्वारा 60 किलो वॉरहेड ले जाया जा सकता हैं. यह मिसाइल जमीन से हवा में 500 मीटर से 100 किलोमीटर तक बचाव एवं हमला कर सकती हैं. बराक-8 मिसाइल की अधिकतम स्पीड 2469 किमी प्रति घंटा हैं.

आईएसी विक्रांत में 76 मिमी की ड्यूल पर्पज कैनन के साथ रिमोट से चलने वाले 4 ओटोब्रेडा लगे हैं.

आईएनएस विक्रांत में 360 डिग्री घूमने वाली 2.5 फीट की कैलिबर तोप लगाई गई हैं जिसकी गोलियों की रेंज लगभग 15-20 किमी तक होती हैं.

आईएनएस विक्रांत विमानवाहक पोत में 360 डिग्री घूमने वाले क्लोज इन वेपन सिस्टम और 4 एके 630 लगाये गए हैं जिसकी मारक क्षमता 10000 राउंड्स प्रति मिनट होती हैं. इसकी एक प्रमुख विशेषता यह हैं कि इसे सिर्फ एक व्यक्ति ही ऑपरेट कर सकता हैं.

 

आईएनएस विक्रांत में सुरक्षा प्रबंध - Security Management at INS Vikrant 2022

आईएसी विक्रांत में एंटी सर्फेस, एंटी एयर वॉरफेयर और एंटी सबमरीन जैसे अत्याधुनिक सुरक्षा सिस्टम लगाये गए हैं. इन मॉडर्न सुरक्षा उपकरणों की सहायता से बाहरी गतिविधियों को परख कर त्वरित जवाबी कार्यवाही किया जा सकता हैं.

 

आईएनएस विक्रांत में चिकित्सा सुविधा - Medical Facility at INS Vikrant 2022

आईएसी विक्रांत में 16 बेड का एक अस्पताल बनाया गया हैं जिसमे 5 ऑफिसर डॉक्टर एवं 16 सहायक चिकित्सक मौजूद रहेंगे. आईएनएस विक्रांत के प्राइमरी मेडिकल कॉम्प्लेक्स में मॉडर्न ऑपरेशन थियेटर, डेंटल, फिजियोथैरेपी क्लिनिक, रेडियोलॉजी विंग, अल्ट्रासोनोग्राफी, एक्सरे, सीटी स्कैन, पैथोलॉजी, लेबोरेटरी एवं आईसीयू जैसी सुविधाएँ दी गई हैं.

 

आईएनएस विक्रांत में भोजन की सुविधा - Food facility at INS Vikrant 2022

आईएसी विक्रांत में आधुनिक किचन की व्यवस्था की गई हैं जिसमे भोजन बनाने के लिए अत्याधुनिक आटोमेटिक मशीन लगाई गई हैं. इन मशीनों की सहायता से लगभग 5000 थाली भोजन तथा 01 घंटे में 3000 रोटियां बनाई जा सकती हैं.

 

आईएनएस विक्रांत की कीमत क्या हैं - What is the cost of INS Vikrant

आईएसी विक्रांत की कीमत 20 हजार करोड़ रूपया हैं.

INS Vikrant


Post a Comment

0 Comments